आखिर क्यों मोदी के बॉडीगार्ड के हाथ में हमेशा रहता हैं ये काला ब्रीफकेस? वजह जान लगेगा जोरदार झटका

1800

इंडिया में दो लोग सबसे ऊँचे पद पर विराजित हैं. पहले आते हैं देश के राष्ट्रपति और दुसरे आते हैं देश के प्रधानमंत्री. भारत में प्रधानमंत्री के काम पर हर किसी की नज़र होती हैं. खासकर कि हमारे तत्कालित पीएम नरेन्द्र मोदी के चर्चे तो हर दम रहते हैं. मोदी सिर्फ इंडिया में ही नहीं बल्कि पुरे विश्व में काफी पॉपुलर हैं. उनकी सत्ता का लोहा विपक्ष पार्टी के लोग भी मानते हैं. मोदी के चाहने वालो की देश में कमी नहीं हैं. लेकिन इस चाहत के साथ कुछ नफरत भी हैं जो मोदी को नुकसान पहुंचाने की कोशिश कर सकती हैं. ऐसे में मोदी जैसे ऊँचे पद पर विराजित व्यक्ति की जान पर हमेशा खतरा मंडराता रहता हैं. इस खतरे से निपटने के लिए सुरक्षा के तौर पर बॉडीगार्ड रखे जाते हैं.

वैसे तो आजकल हर बड़ा सेलिब्रिटी या नेता बॉडीगार्ड लेकर घूमता हैं. बॉडीगार्ड का सिर्फ एक ही काम होता हैं कि अपने मालिक के साथ साये की तरह चलना और आसपास के वातावरण पर पैनी नज़र रख किसी खतरे को भांप लेना. जब कोई ख़तरा आता हैं तो ये बॉडीगार्ड अपनी जान पर खेल मालिक की रक्षा करते हैं. हालाँकि यदि मोदी के बॉडीगार्ड की बात करे तो ये दुसरे लोगो के बॉडीगार्ड से थोड़े अलग होते हैं.

मोदी की सुरक्षा का जिमा एसपीजी के पास होता हैं. बताते चले कि एसपीजी का पूरा नाम स्पेशल प्रोटेक्शन ग्रुप हैं. ये एसपीजी की स्थापना ही इसलिए हुई हैं ताकि वे हर 5 साल में प्रधानमंत्री बनने वाले शख्स की रक्षा कर सके. यही एसपीजी पीएम मोदी से पहले पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह की सुरक्षा की जिम्मेदारी भी ले चुकी हैं.

मोदी जब भी किसी दौरे पर जाते हैं तो एसपीजी पहले से उस इलाके की सुरक्षा बड़ा देती हैं. यदि उन्हें कोई संदिग्ध गतिविधि या व्यक्ति दिखाई देता हैं तो वो फ़ास्ट एक्शन लेती हैं और उसे रास्ते से हटा देती हैं. वैसे यदि आप ने गौर किया हो तो मोदी जब भी अपने बॉडीगार्ड के साथ कहीं जाते हैं तो इन बॉडीगार्ड के पास एक ब्रीफकेस जरूर होता हैं. बॉडीगार्ड अपने पास ये ब्रीफकेस एक ख़ास वजह से रखते हैं. आज हम इसी ब्रीफकेस के बारे में आपको दिलचस्प जानकारी देने वाले हैं.

आपको जान हैरानी होगी कि मोदी के बॉडीगार्ड के हाथ में रखा ब्रीफकेस को साधारण नहीं हैं बल्कि ये एक सुरक्षा कवच के रूप में काम करता हैं. दरअसल इस ब्रीफकेस के अन्दर एक नुक्लेअर बटन होता है. इस बटन को दबाते ही ब्रीफकेस ओपन हो जाता हैं और एक सुरक्षा शील्ड में कन्वर्ट हो जाता हैं. ये ब्रीफकेस वैसे तो बहुत पतला होता हैं लेकिन मजबूती के मामले में बेमिसाल होता हैं. ये इतना अधिक मजबूत होता हैं कि सिर्फ बुलेट ही नहीं बल्कि बैलिस्टिक मिसाइल तक को रोक सकता हैं. यही वजह हैं कि बॉडीगार्ड इस ब्रीफकेस को मोदी के पास लेकर चलते हैं. ताकि यदि कोई उनपर हमला करता है तो ये ब्रीफकेस उनकी सुरक्षा कर सके.

दोस्तों यदि आपको ये दिलचस्प जानकारी पसंद आई तो इसे अपने दोस्तों संग शेयर जरूर करे, ताकि वे भी इस जानकारी का लुफ्त उठा सके.